आईटीआर (ITR) भरने में कुछ दिन बचे हैं, लेकिन ऑनलाइन फाइल करने में आ रही हैं कई दिक्कतें

Income Tax

Tax | Rajeev Mishra | Updated: July 25, 2018 15:18 IST
इस बार आयकर विभाग आईटीआर भरने की तारीख को आगे बढ़ने के मूड में भी नहीं दिख रहा है.

31 जुलाई तक आम करदाताओं को आईटीआर (ITR) फाइल करना है. इस तारीख के करीब आने पर लोग में आईटीआर फाइल (Income tax Return filing) करने की तेजी बढ़ती जा रही है. लाखों लोग अंतिम तारीख के जल्दबाजी से बचने के लिए पहले ही आईटीआर फाइल करना चाहते हैं. इस बार आयकर विभाग आईटीआर भरने की तारीख को आगे बढ़ने के मूड में भी नहीं दिख रहा है. पिछले कुछ दिनों से आयकर विभाग भी रजिस्टर्ड आयकरदाताओं को जल्द से जल्द अपना आईटीआर फाइल करने के लिए कह रहा है. ऐसा नहीं करने पर विभाग बता रहा है कि अंतिम तिथि के बाद आईटीआर फाइल करने वालों पर जुर्माना लगेगा. यह जुर्माना भी आयकर श्रेणी पर निर्भर करेगा और साथ ही साथ अंतिम तारीख निकल जाने के कितने दिन के बाद वह जमा करता है, यह इस पर भी निर्भर करेगा.




लेकिन पिछले कुछ दिनों में लोगों के शिकायत आ रही है कि वे आईटीआर ऑनलाइन दाखिल नहीं पा रहे हैं. विभाग की साइट पर दिक्कतें हैं.

इन दिक्कतों में सबसे ज्यादा शिकायतें दो बातों को लेकर आ रही है. एक ईवीसी को लेकर हैं और दूसरी एक्सएमएल फाइल को लेकर दिक्कतें आ रही हैं.



जानकारी के लिए बता दें कि लोगों का कहना है कि जब वे साइट पर आईटीआर फाइल करने जा रहे हैं तब उन्हें एक्सएमएल फाइल अपलोड करने में दिक्कत आ रही है. बता दें कि विभाग की साइट पर ही इसका इलाज दिया गया है. लेकिन आम आदमी के लिए इसमें कुछ दिक्कतें हैं. आम नागरिक को समझने और सही तरीके से इसे फाइल करने में कठिनाई आ रही है. अब यहां पर किसी जानकार की मदद लेना जैसा अनिवार्य हो रहा है. कुछ लोगों का कहना है कि अगर विभाग इस तकनीकी समस्या का समाधान पहले ही निकाल लेता तो शायद लोगों को अभी दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ता.


कभी तो फाइल अपलोड नहीं हो रही है तो कही अपलोड होने के बाद साइट पर एक्सएमएल कोड का ऐरर आ रहा है. यहां पर साइट पर मैसेज आ रहा है कि एक्सएमएल स्कीमा इनवैलिड है यानी गलत है.


कुछ लोगों की शिकायत है कि सबमिट करने से पहले मांगा जा रहा ईवीसी नंबर मोबाइल पर समय पर आ नहीं रहा है. कुछ लोगों की शिकायत है कि यह नंबर आ ही नहीं रहा है. ऐसे में आईटीआर भरा नहीं जा पा रहा है. लोगों का कहना है कि विभाग की साइट पर दिक्कतें आ रही है. अधिकतर दिक्कतें विभाग की ओर से हैं. इनमें तकनीकी समस्याएं ज्यादा है. लोगों का कहना है कि इन समस्याओं का समाधान विभाग को जल्द से जल्द करना चाहिए.



Leave a Reply