आज से 77 साल पहले तानाशाह हिटलर को हराने के लिए अमेरिका और ब्रिटेन के बीच ये हुई थी डील

Defense

इतिहास में आज की तारीख यानि 14 अगस्त 1941 का दिन हिटलर को हराने की कोशिश को लेकर दर्ज है। आज ही के दिन अमेरिका और ब्रिटेन ने अपने इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए एक गोपनीय समझौता किया था। इस समझौते से ठीक पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल और अमेरिका के राष्ट्रपति फ्रैंकलिन रूजवेल्ट के बीच एक उच्च-स्तरीय बैठक हुई थी।




समझौते को दिया गया ‘अटलांटिक चार्टर’ का नाम
इस बैठक के बाद दोनों देशों ने मिलकर एक बयान जारी किया। जिसमें उन्होंने कहा कि वह मिलकर जर्मन तानाशाह हिटर का खात्मा करेंगे। उसके पतन के लिए वह हर संभव कोशिश करेंगे। इसमें कुल 8 बिंदुओं पर हस्ताक्षर किए गए।



खुला व्यापार और कहीं भी घूमने की आजादी थे मुख्य बिंदु
इस समझौते के 8 बिंदुओं में प्रमुख थे हिटलर के शासन के अंत के बाद पूरी दुनिया में शांति का विस्तार करना। दूसरा मुख्य बिंदु था पूरी दुनिया में कहीं भी बिना डरे घूमने की आजादी। एक अन्य मुख्य बिंदु था सभी देशों के बीच खुला व्यापार। जो कि सभी देशों की आर्थित व्यवस्था खासकर कि ब्रिटेन और अमेरिका की आर्थिक व्यवस्था के विकास के उद्देश्य से रखा गया।


लोगों को भी बाद में मिली जानकारी
दोनों देशों की जनता और मीडिया भी इस बात को नहीं जानती थी कि अमेरिका और ब्रिटेन के बीच ऐसा कोई समझौता हुआ है। जब समझौते पर हस्ताक्षर हो गए और सबकुछ तय कर लिया गया कि कब क्या करना है। उसके बाद इस बात की संयुक्त घोषणा की गई। जिसके बाद दुनिया को इनके गोपनीय समझौते के बारे में पता चला। हिटलर की ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उसे हराने के लिए इन दोशों को साथ आना पड़ा था।


Leave a Reply

Your email address will not be published.