भारतीय मुक्केबाज गौरव सोलंकी और मनीष कौशिक ने जीते स्वर्ण पदक

General News Sports News Wrestling

Publish Date:Sun, 05 May 2019 06:57 PM (IST)
भारतीय मुक्केबाजों ने दो स्वर्ण के अलावा एक रजत और तीन कांस्य पदक के साथ टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन किया।

नई दिल्ली, प्रेट्र। भारतीय मुक्केबाजों गौरव सोलंकी और मनीष कौशिक ने शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीते, जिससे भारतीय खिलाड़ी पोलैंड के वारसा में 26वें फेलिक्स स्टेम अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में छह पदक जीतने में सफल रहे। भारतीय मुक्केबाजों ने दो स्वर्ण के अलावा एक रजत और तीन कांस्य पदक के साथ टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन किया।



22 वर्षीय सोलंकी (52 किग्रा) ने इंग्लैंड के विलियम काउले को 5-0 से हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। उन्होंने एक बार फिर उस फॉर्म में झलक पेश की जिससे वह पिछले साल कॉमनवेल्थ गेम्स और कैमिस्ट्री कप में स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहे थे। पिछले साल इंडिया ओपन में स्वर्ण और कॉमनवेल्थ गेम्स में रजत पदक जीतने वाले 23 साल के कौशिक (60 किग्रा) को भी अधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। उन्होंने मोरक्को के मुहम्मद हमोत को 4-1 से हराया।


बैंटमवेट विशेषज्ञ मुहम्मद हसमुद्दीन (56 किग्रा) को हालांकि एक बार फिर रजत पदक के साथ संतोष करना पड़ा। वह फाइनल में रूस के मुखमाद शेखोव को कड़ी टक्कर देने के बावजूद 1-4 से हार गए। भारत के तीन अन्य मुक्केबाजों को सेमीफाइनल में हार के कारण कांस्य पदक मिले। मनदीप जांगड़ा को 69 किग्रा में रूस के वादिम मुसाइव के खिलाफ 0-5, जबकि संजीत को 91 किग्रा में न्यूजीलैंड के डेविड नाइका के खिलाफ इसी अंतर से हार का सामना करना पड़ा। अंकित खटाना को 64 किग्रा में कड़ी चुनौती पेश करने के बावजूद सेमीफाइनल में पोलैंड के डेमियन दुर्काज के खिलाफ 2-3 से हार झेलनी पड़ी।


Leave a Reply