रेलवे में तत्काल टिकट बुक करने के लिए क्या है नियम, पढ़ें 8 प्वाइंट में पूरी जानकारी

Finance

नई दिल्ली: भारतीय रेल में जैसे जैसे यात्रियों की संख्या बढ़ती गई, रेल ने उनकी सुविधाओं में इजाफा करने के लिए समय समय पर कदम उठाए.

इनमें से एक सुविधा आरक्षण से संबंधित है. यह तत्काल आरक्षण की सुविधा है. यह सुविधा भी रेलवे उन यात्रियों के लिए लेकर आया था जिन्हें किसी कारण वश अचानक यात्रा के लिए मजबूर होना पड़ा. बाद में यात्रियों ने इसका भी प्रयोग आम सुविधा के तौर पर शुरू कर दिया.
इस सुविधा को लेकर रेलवे ने कई बार बदलाव किए. यह सब लोगों की शिकायतों और रेलवे में आरक्षण प्रक्रिया में आए दलालों को दूर करने के लिए उठाए गए कदम रहे. भारतीय रेल ने तकनीक का बेहतर प्रयोग कर ई-बुकिंग की सुविधा उपलब्ध कराई. इसके बाद रेलवे ने भ्रष्टाचार की कई शिकायतों के बाद अपनी इस सेवा का ऑनलाइन किया. समय बीतने के साथ हालात यह हो गए कि कुछ गैंग ने ऑनलाइन टिकट बुकिंग और तत्काल बुकिंग में भी सेंध लगा दी. और होने यह लगा कि जिन लोगों को तत्काल टिकट की जरूरत थी उन्हें यह नहीं मिलता था. रेलवे ने फिर अपनी बुकिंग प्रक्रिया में बदलाव किया. रेलवे ने तत्काल टिकट बुकिंग स्कीम को यात्रियों की सहूलियत और बुकिंग काउंटरों से भीड़ को कम करने के लिए लॉन्च किया था. एजेंट्स और दलालों की चालों को नाकामयाब करने के लिए रेलवे ने यह किया था.



वर्तमान में तत्काल टिकट बुकिंग का नियम क्या कहता है

  1. नॉन-एसी टिकटों की बुकिंग इसके एक घंटे बाद यानी 11 बजे से शुरू होती है, जबकि एसी क्लास की टिकटों की तत्काल बुकिंग यात्रा तिथि से एक दिन पहले सुबह 10 बजे से होती है. (पढ़ें- रेल यात्रियों को जल्द मिलेगी यह बड़ी सौगात, सफर में किच-किच से निजात का रास्ता तैयार)
  2.  बुकिंग शुरू होने के आधे घंटे तक अधिकृत एजेंट तत्काल टिकट नहीं बुक कर सकते हैं. (पढ़ें- ट्रेनों में एसी कोच का किराया बढ़ने की संभावना, CAG ने दे डाला यह सुझाव)
  3.  सिंगल यूजर आईडी से एक दिन में सिर्फ 2 तत्काल टिकट बुक किए जा सकते हैं.
  4.  एक आईपी अड्रेस से भी अधिकतम 2 तत्काल टिकट बुक हो सकते हैं. (पढ़ें – रेलवे में टिकट कैंसिल कराने के नियम क्या हैं? पूरी जानकारी यहां पढ़ें)
  5.  नए नियमों के तहत कुछ शर्तों के साथ तत्काल टिकट पर 100 प्रतिशत तक रिफंड ले सकते हैं. (पढ़ें- काम की खबर : देश की इन 25 ट्रेनों में यात्रियों को मिलेगी यह खास सुविधा)
  6.  ट्रेन के शुरुआती स्टेशन पर 2 घंटे लेट होने, रूट बदलने, बोर्डिंग स्टेशन से ट्रेन के नहीं जाने और कोच डैमेज होने या बुक टिकट वाली श्रेणी में यात्रा की सुविधा नहीं मिलने पर आप 100 प्रतिशत रीफंड मिल सकता है. (पढ़ें- ट्रेन होगी लेट तो यात्रियों को IRCTC उपलब्ध कराएगा मुफ्त खाना…)
  7.  रेलवे ने रजिस्ट्रेशन, लॉग इन और बुकिंग पेजों पर कैप्चा कोड की व्यवस्था की है. यह इसलिए किया गया है ताकि किसी ऑटोमेशन सॉफ्टवेयर के जरिए फर्जीवाड़ा करके कोई टिकट बुक न किया जा सके. (पढ़ें- पेयू ने ऑनलाइन भुगतान के लिए आईआरसीटीसी से की साझेदारी)
  8.  इंटरनेट बैंकिंग के सभी पेमेंट ऑप्शंस के लिए OTP यानी वन टाइम पासवर्ड की एंट्री की व्यवस्था की गई है.(पढ़ें- माता वैष्णो देवी के दर्शनों के लिए IRCTC लाई 2500 रुपये का टूर पैकेज, 3 दिन और 4 रातों की व्यवस्था)

Shared News | Updated: July 19, 2018 11:13 IST




Leave a Reply

Your email address will not be published.