सावधान! मुंबई में समंदर किनारे हैं ‘नीली’ आफत, दो दिन में 150 लोग घायल

General News

जेलिफिश के संपर्क में आने से घंटो तक दर्द और खुजली होती है। इनका डंक मछलियों की जान भी ले लेता है।




मुंबई, एएनआई। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में समंदर किनारे अक्सर लोग सैर-सपाटा करने जाते हैं। लेकिन इन दिनों लोगों के लिए ये सैर सपाटा घातक साबित हो रहा है। दरअसल, मुंबई के समुद्री तटों पर ब्लू बॉटल जेलिफिश ने आतंक मचाया हुआ है। बड़ी संख्या में आई इन जहरीली जेलिफिशों ने कई लोगों को अपना निशाना बनाया है। इसके हमले में पिछले दो दिनों में अब तक 150 लोग घायल हो चुके हैं।



जेलिफिश के संपर्क में आने से घंटो तक दर्द और खुजली होती है। इनका डंक मछलियों की जान भी ले लेता है। बताया जाता है कि मध्य मानसून सीजन के दौरान मुंबई में ये आमतौर पर देखी जाती हैं।


जुहू बीच पर एक दुकानदार ने बताया कि पिछले दो दिनों में जेलिफिश के हमले में 150 लोग घायल हो चुके हैं। उन्होंने कहा ‘जेलिफिश से बीच भरा हुआ है। कई लोग घायल हुए हैं। मैं घायल लोगों पर नींबू मलकर उनकी मदद कर रहा हूं। लोगों को अभी बीच पर आने से बचना चाहिए।’ स्थानीय लोगों का कहना है कि जेलिफिश हर साल बीच पर देखी जाती हैं। लेकिन, इस समय ये काफी संख्या में मौजूद हैं।


सरकार ने जारी की एडवाइजरी
जेलिफिशों के आतंक को देखते हए सरकार ने एडवाइजरी जारी की है। सरकार ने लोगों को बीच पर जाने से मना किया है। हाल ही में जुहू, अक्सा और गिरगाम चौपाटी बीचों पर बड़ी संख्या में जेलिफिशों को देखा गया। विशेषज्ञों के अनुसार ये जिस बॉडी पार्ट के टच में आते हैं वो सुन्न हो जाता है। कई केस में इनके टच की वजह से बहरेपन की भी शिकायत मिली है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *