Organized one-day workshop on personality development and communication skills of managers

General News

प्रबंधकों के व्यक्तित्व विकास एवं संप्रेषण कौशल विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

वाराणसी – संकल्प ट्यूटोरियल प्राइवेट लिमिटेड के तत्वावधान में
प्रबन्धकों के व्यक्तित्व विकास एवं संप्रेषण कौशल विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में पूर्वांचल के सुप्रसिद्ध मनोचिकित्सक डॉ मनोज कुमार तिवारी ने प्रबंधकों को व्यक्तित्व विकास एवं संप्रेषण कौशल के लिए टिप्स दिए उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि व्यक्तित्व विकास का प्रयास हर व्यक्ति को करते रहना चाहिए क्योंकि सतत् सुधार से ही व्यक्ति के कौशलों में उत्कृष्टता आती है साथ ही उन्होंने प्रबंधकों को अपने संप्रेषण कौशल के सुधार के हेतु अपने शारीरिक शारीरिक भाषा को भी संतुलित रखने का सुझाव दिया क्योंकि जब भी कोई व्यक्ति किसी से मिलता है तो सर्वप्रथम वह व्यक्ति के शारीरिक स्थिति, मुखाकृति एवं पहनावे से ही एक विचार बना लेता है यदि व्यक्ति नकारात्मक संवेग मे रहता है तो उसका प्रभाव उसके शारीरिक हाव-भाव तथा बातचीत में भी स्पष्ट दिखाई पड़ता है इसलिए हमें अपने संवेगो को नियंत्रित करके रखना चाहिए तभी हम अपने क्षमताओं का सही प्रयोग करने में सक्षम हो सकें। उन्होंने अनेक गतिविधियों के माध्यम से प्रबंधकों को उनके कार्य में सुधार के उपायों को दिखाया तथा प्रबंधकों को तनाव मुक्त रहने के लिए उन्हें रिलैक्सेशन एक्सरसाइज भी सिखाया। कार्यशाला की अध्यक्षता कर रहे भाजपा के क्षेत्रीय महामंत्री काशी क्षेत्र अशोक चौरसिया ने अपने संबोधन में कहा कि यदि व्यक्ति अपने कार्य को ही पूजा समझ ले तो उसे कभी भी अपना कार्य बोझ नहीं लगेगा और वह हमेशा अपने कार्य को उत्कृष्ट रूप से करने का प्रयास करेगा हम अपने कार्य को पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा पूर्वक करके भी देश सेवा कर सकते हैं।
वरिष्ठ प्रबंधक संजय भगत ने प्रबंधकों को कार्य में आ रही परेशानियों का निराकरण के तरीकों को विस्तार से समझाया। डॉक्टर अजय चौरसिया निदेशक ने कहा कि हमें अपनी कमियों को छिपाने के बजाय उसे स्वीकार करके उस क्षेत्र के विशेषज्ञ एवं अपने वरिष्ठ जनों के से सुझाव लेकर उसे दूर करने का प्रयास करना चाहिए तभी हम अपना सर्वश्रेष्ठ निष्पादन दे पायेंगे । कार्यक्रम में मुख्य रूप से अश्वनी, अखिलेश, जितेंद्र सिंह, बृजेश सिंह, विवेकानंद तिवारी दीपक व योगेश ने सक्रिय सहभागिता की।

Leave a Reply